क्या समीर भैया की शादी की सालगिरह पर ब्लागर्स मीट

उडन तश्तरी ....:जी की शादी की बीसवीं सालगिरह का किस्सा उनको अक्सर याद आ जाता है . इस बार (शायद 28 वीं सालगिरह पर वे ) उस दिन को इस तरह व्यक्त कर रहें हैं ,
एक रात ३ बजे पति के रोने की आवाज सुनकर पत्नी की नींद खुली तो देखा, पति ड्राइंगरुम में बैठा रो रहा है. पत्नी ने कारण पूछा तो कहने लगा कि तुम्हें याद है आज से २० साल पहले, जब हमारी शादी नहीं हुई थी, तुम्हारे पिता ने हमें प्यार करते पकड़ लिया था और कहा था कि या तो मेरी लड़की से विवाह करो या मैं अपने आपको गोली मार लूँगा और हत्या का इल्जाम तुम पर आयेगा. तुमको आजीवन कारावास होगा. तो मैने तुमसे शादी कर ली थी. पत्नी ने कहाः हाँ याद है मगर इसमें रोने की क्या बात है? पति बोला: सोच रहा हूँ, आज मैं छूट गया होता जेल से.
हमारी जबलपुरिया समझ को भी दाद देनी ही होगी कि हम समझ गए और हम उनके मन को सुकून देने के लिए कल यानी 19 जनवरी 2009 को ब्लागर्स-मीट विद डिनर एट 08:15 की तैयारी में हैं . मीट शुद्ध शाकाहारी भोजनालय रूपाली इन जबलपुर में आयोजित है , जो भी भाई ब्लॉगर हैं सादर आमंत्रित हैं समय का विशेष ध्यान रखा जावे रात्रि 08:15 से होटल बंद होने के 5 मिनट पूर्व तक ताकि आपका परिवार आपकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने का कष्ट न उठाए

12 टिप्‍पणियां:

  1. अरे नहीं भाई--शादी की सालगिरह अभी नहीं है..काफी समय बाकी है.

    इसे तो वो जब घमकी मिली थी, उसी की सालगिरह माने जिसकी याद में रो रहे थे. :)

    कल ब्लॉगर्स मीट में मुलाकात होगी.

    उत्तर देंहटाएं
  2. kahaani bahut mazedar lagi!!! Jabalpur se hamaara bhi rishta hai..

    उत्तर देंहटाएं
  3. wah ham chane walo ko dinar n karaoge mukulji
    MANISH SHARMA

    उत्तर देंहटाएं
  4. sabhee ka swagat hai
    bill to sabhee apana-apana denge
    manish bhai
    aap mera bhee de dena
    haa haa haa
    sharma ji
    aap to aa hee jaanaa
    varsha ji amit ji samir bhaiya sabhee kaa abhaaree hoon

    उत्तर देंहटाएं
  5. संस्कारधानी जबलपुर ब्लॉगर्स का गढ़ बनता जा रहा है... और इसका श्रेय ब्लॉगिंग के पुरोधा समीर जी को ही जाती है। मुकुल जी, मैं वहां पहुंच तो नहीं सकता। लेकिन यहीं से सभी को नमस्कार करता हूं।

    उत्तर देंहटाएं
  6. वहां जो गाना-ऊना गाया जाये उसका हिसाब-किताब मय फोटो-वोटॊ पेश किया जाये।

    उत्तर देंहटाएं
  7. ji ham jabalpur mein hote to avashya aate.. phir kabhi...

    उत्तर देंहटाएं
  8. फुरसतिया चच्चा की रिक्वेस्ट पर गौर फ़रमाया जाए और ई-गुरु का आदेश भी है की हम उपस्थित नहीं हो पायेंगे अतः हमारे लिए चित्रविथी का इंतजाम किया जाए.

    उत्तर देंहटाएं
  9. ई......गुरु जी...............का कह रए हो दादा............नैं
    आ हो ....चित्रविथी का इंतजाम किया जाए.?
    कर देहें जैसी आप-सबों की इच्छा..........

    उत्तर देंहटाएं
  10. ब्‍लॉगर्स इंटरनेट की वर्चुअल दुनिया से निकल जीवन की गहराईयों से भी जुड रहे हैं, यह देख कर अच्‍छा लगता है।

    उत्तर देंहटाएं

कँवल ताल में एक अकेला संबंधों की रास खोजता !
आज त्राण फैलाके अपने ,तिनके-तिनके पास रोकता !!
बहता दरिया चुहलबाज़ सा, तिनका तिनका छिना कँवल से !
दौड़ लगा देता है पागल कभी त्राण-मृणाल मसल के !
सबका यूं वो प्रिय सरोज है , उसे दर्द क्या कौन सोचता !!