नवोदित ब्रिगेडियर अंकुर का स्वागत है


जबलपुर ब्रिगेड में आपका   का स्वागत है, अंकुर मेरा भतीजा है मेरी ब्लागिंग को देख बंगलूरू में बतौर आई० टी० प्रोफेशनल काम कर रहे अंग्रेजी ब्लॉग "Virgin April" बना लिया . अब अंकुर शीघ्र ही  हिन्दी ब्लागिंग में अंगुलियाँ आज़माएंगें जबलपुर-ब्रिगेड  के इस नवोदित ब्रिगेडियर का स्वागत है

7 टिप्‍पणियां:

कँवल ताल में एक अकेला संबंधों की रास खोजता !
आज त्राण फैलाके अपने ,तिनके-तिनके पास रोकता !!
बहता दरिया चुहलबाज़ सा, तिनका तिनका छिना कँवल से !
दौड़ लगा देता है पागल कभी त्राण-मृणाल मसल के !
सबका यूं वो प्रिय सरोज है , उसे दर्द क्या कौन सोचता !!